बाजार में आया फार्मा, हेल्थकेयर पर आधारित फंड 

चंडीगढ़। आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल एमएफ ने आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल फार्मा हेल्थकेयर एंड डायग्नोस्टिक्स (पी.एच.डी.) फंड को बाजार में उतारा है। इस स्कीम का लक्ष्य पूरी तरह से भारतीय स्वास्थ्य देखभाल की लंबी अवधि की विकास कहानी पर पूंजी में अच्छी खासी बढ़ोतरी करना है।
आय के स्तर में बढ़ोतरी, स्वास्थ्य जागरूकता में वृद्धि, उपचार प्रौद्योगिकियों में सुधार और स्वास्थ्य बीमा के प्रवेश से हेल्थ केयर देश में सबसे तेजी से बढ़ रहे क्षेत्रों में शामिल हो गया है। फंड के बारे में निमेश शाह, एमडी और सीईओ ने कहा कि स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं और बीमा के मामले में भारत एक कम मौजूदगी वाला बाजार बना हुआ है। इस प्रकार बढ़ती जागरूकता के साथ लोगों की खर्च करने की बढ़ती क्षमता शामिल होने से लंबे समय तक एक बेहतर निवेश साबित होगा। एनएफओ 25 जून 2018 को खुलेगा और 9 जुलाई को बंद होगा।
ज्ञातव्य है कि भारत में दुनिया की सबसे बड़ी युवा आबादी है। हालांकि, देश में 16 करोड़ से अधिक की वरिष्ठ नागरिक आबादी के साथ, औसत आयु में वृद्धि के साथ, स्वास्थ्य देखभाल की मांग में उल्लेखनीय वृद्धि होने की उम्मीद है। भारत ने अपने आप को वैश्विक उत्पादन और रिसर्च केन्द्र के तौर पर स्थापित किया है और भारत विश्व के कुल उत्पादन में 10 फीसदी का योगदान देता है और इसका 50 फीसदी राजस्व फार्मास्यूटिकल निर्यात से प्राप्त होता है। वर्तमान में, जीडीपी का 5 फीसदी, भारत में इस पर खर्च होता है जो कि अन्य विकसित और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं की तुलना में काफी कम है।