ड्रग्स की भारी खेप के साथ तीन गिरफ्तार

रुद्रपुर। पुलिस ने बरेली के दवा कारोबारी समेत नशे के तीन सौदागरों को नशीली दवाओं की भारी खेप के साथ गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों से 23557 नशीले इंजेक्शन, 32976 नशीली गोलियां और स्मैक बरामद की है। साथ ही तस्करी में इस्तेमाल एक कार और स्कूटी भी बरामद की। जानकारी अनुसार पुलिस ने खेड़ा निवासी मौजिम खान को नशे के 1500 इंजेक्शन और चरस के साथ गिरफ्तार किया था। पुलिस पूछताछ में उसने बताया कि वह नशे के इंजेक्शन बरेली के एक दवा कारोबारी से खरीदता है। इस पर पुलिस ने आरोपी की धरपकड़ के लिए जाल बिछा दिया। मलेरिया अस्पताल के पास बरेली के दवा कारोबारी के नशीले इंजेक्शन की खेप लेकर पहुंचने की सूचना मिली। इस पर पुलिस टीम ने मौके पर पहुंच कार और स्कूटी सवार दो युवकों को पकड़ लिया।
कार की तलाशी में एविल और डाइजालैप के 14 हजार प्रतिबंधित इंजेक्शन और 32976 नशीली गोलियां और 21 पुडिय़ा स्मैक बरामद हुई। जबकि स्कूटी सवार दो युवकों से 1157 एविल, 3800 लिपगेसिक और 4600 डाइजालैप के प्रतिबंधित इंजेक्शन और पांच-पांच ग्राम स्मैक मिला। कार सवार युवक ने अपना नाम बरेली के प्रेमनगर निवासी उत्कर्ष भुटानी तथा स्कूटी सवार युवकों ने अपना नाम ग्राम बमनपुरा निवासी जुबैर खान उर्फ जुएब खान और बरेली के मॉडल टाउन निवासी विनय ओबरॉय उर्फ बंटी बताया। बाद में पुलिस ने तीनों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया। एसएसपी डॉ. सदानंद दाते ने बताया कि आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। पुलिस के मुताबिक नशीले इंजेक्शनों की सप्लाई लंबे समय से की जा रही थी। तीनों ने बताया कि वे नशीले इंजेक्शन की सप्लाई बरेली, रामपुर और रुद्रपुर में करते थे। पूछताछ में कुछ और नाम सामने आए हैं। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। माना जा रहा है कि उनकी गिरफ्तारी के बाद पुलिस नशीले इंजेक्शन बेचने वालों का और खुलासा कर सकती है।