नशे में गिरफ्त महिलाओं-बच्चों का यहां होगा इलाज

कपूरथला। प्रदेश में नशे की गिरफ्त में पुरुष ही नहीं बल्कि महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। उनके इलाज के लिए सरकार ने अलग से सेंटर खोलने की कवायद शुरू की है। नशे की गिरफ्त में आई महिलाओं और बच्चों के इलाज के लिए प्रदेश में पहली बार सरकारी नवकिरण केंद्र बनाया गया है। कपूरथला के सिविल अस्पताल में 25 बेड वाले इस केंद्र का उद्घाटन स्वास्थ्य मंत्री ब्रह्म महिंद्रा ने किया।
नशा छुड़ाओ केंद्र के प्रभारी डॉ. संदीप भोला ने बताया कि इस केंद्र में फिलहाल नशे की आदी दो महिला मरीज उपचाराधीन हैं। कुछ समय से नशे में फंसी महिलाओं व 14 साल से कम उम्र के बच्चों की संख्या में बढ़ोतरी होने के कारण उनके उपचार के लिए अलग से केंद्र होने की मांग उठ रही थी। इसी कारण नवकिरण केंद्र तैयार करवाया गया। डॉ. भोला ने बताया कि इस नवकिरण केंद्र में 15 बेड महिलाओं के लिए व 10 बेड 14 साल के कम उम्र के बच्चों के इलाज के लिए उपलब्ध हैं।