दवा दुकानों पर रेड, 27 के लाइसेंस कैेंसिल 

अहमदाबाद। खाद्य एवं औषध विभाग की टीम ने मेडिकल स्टोर्स पर रेड कर कोडीनयुक्त अवैध दवाइयां जब्त की हैं। टीम ने ऐसी 27 दवा दुकानों के लाइसेंस कैंसिल कर दिए, जबकि 35 दुकानदारों के लाइसेंस 15 दिन के लिए कैंसिल किए हैं। इससे पहले टीम ने 46 लाख रुपए कीमत की कफ सिरप जब्त की थी। जानकारी अनुसार राज्य के खाद्य एवं औषध विभाग को दवा दुकानों पर अवैध मादक युक्त दवाइयां बेचे जाने की सूचना मिली थी। विभाग की कई टीमों ने गांधीनगर, अहमदाबाद में मेडिकल स्टोर्स पर छापे मारे। करीब 150 दुकानों में की गई कार्रवाई के दौरान 27 में कोडीनयुक्त दवाइयां मिली।
अवैध दवाओं के कोई बिल न होने पर इन दुकानों के लाइसेंस रद्द कर दिए गए। इसके अलावा 35 दुकानों पर अनियमितता पाए जाने पर उनके लाइसेंस 15 दिनों के लिए रद्द किए गए हैं। बताया गया है कि ऐसी कई दुकानें हैं जिनके पास कोडीनयुक्त दवाइयों की बिक्री का लाइसेंस नहीं है फिर भी वे इन्हें बेच रहे हैं। गौरतलब है कि नार्कोटिक्स कन्ट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के नेतृत्व में पाटण एवं बेहरामपुरा (अहमदाबाद) में रेड कर 46 लाख रुपए की अवैध कफ सिरप व अन्य दवाइयां जब्त की गई थीं।
इसी क्रम में गांधीनगर और अहमदाबाद की दवाइयों की दुकानों पर जांच कार्रवाई शुरू की गई है। विभाग के अनुसार अहमदाबाद के बेहरामपुरा एवं पाटण में छापा मारा गया था। उस दौरान मेसर्स बायोजिनेटिक ड्रग्स प्राइवेट लिमिटेड सोलन (हिमाचल प्रदेश की कंपनी) की ओर से उत्पादित सैफेकोल्ड कफ सिरप की सौ मिलीलीटर की 42 हजार से अधिक बोटल मिली थीं। इसकी अनुमानित कीमत 46 लाख बताई जा रही है। इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है।