डाक पार्सल वैन से प्रतिबंधित कफ सिरप की तस्करी, चालक गिरफ्तार

प्रतिबंधित कोडीन कफ सिरप

पटना (बिहार)। डाक पार्सल वैन में छुपाकर प्रतिबंधित कफ सिरप को तस्करी कर ले जाया जा रहा था। एक्साइज पुलिस ने आरोपी वैन चालक को गिरफ्तार कर प्रतिबंधित कफ सिरप की 1100 बोतलें बरामद कर ली हैं।

यह है मामला

अनुमंडल की एक्साइज पुलिस ने पटना-गया एनएच 83 स्थित नदौल चेक पोस्ट पर एक डाक पार्सल वैन को शक के आधार पर रोका। जब वैन की तलाशी ली गई तो उसमें 1100 बोतल प्रतिबंधित कोडीन सिरप बरामद हुई। पुलिस ने मौके से आरोपी वैन चालक को गिरफ्तार कर लिया। एक्साइज अधीक्षक के अनुसार डाक पार्सल वैन गया से पटना की ओर आ रही थी। नदौल चेक पोस्ट पर इंस्पेक्टर अभिमन्यु के नेतृत्व में चेकिंग के दौरान प्रतिबंधित सिरप बरामद की गई।

सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे

ड्रग इंस्पेक्टर पटना टू सतीश कुमार शर्मा ने मसौढ़ी मद्य निषेध थाना पहुंच कर बरामद प्रतिबंधित कोडीन सिरप की जांच के लिए के सैंपल लिए हैं। ड्रग इंस्पेक्टर ने बताया कि राज्य में कोडीन सिरप की बिक्री पर रोक है। इसे तस्करी कर चोरी छुपे ले जाना गलत नीयत को दर्शाता है।

छोटा डोज ही कर देता है नशा

मसौढ़ी के एक्साइज अधीक्षक संजय चौधरी ने बताया कि यह कोडीन सिरप के छोटे डोज से ही व्यक्ति को नशा महसूस होने लगता है। दरअसल, कोडीन ब्रेन स्टेम के कफ सेंटर पर सीधा असर डालकर उसे कमजोर करता है। इसके कारण यह सीरप खांसी से राहत देने के बजाय व्यक्ति को इसका आदी बना देती है।

ड्रग इंस्पेक्टर संजीत कुमार ने बताया कि लगातार कोडीन सिरप की लत लगने से हृदय की गति बढ़ जाती है। स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित होने पर सरकार ने इसे बैन किया है।