नर्स मनोरंजन की वस्तु नहीं है, 7 जून को दिखाएंगे ताकत

नई दिल्ली: जितना तेजी से ‘कॉमेडी विद् कपिल’ शो के जरिये कपिल शर्मा का देश-विदेश में नाम हुआ, अब उतनी ही तेजी से  ‘कपिल ङ्क/स् नर्स’ से कॉमेडी के इस बादशाह की बदनामी हो रही है। देशभर में नर्सें उनके विरोध में उतर आई हैं।
दरअसल, एक एपिशोड में कपिल शर्मा ने नर्स के चरित्र को इस तरह प्रस्तुत किया, जैसे नर्स न हो आइटम गर्ल हो। कपिल ने न केवल शो में नर्स का रोल कर रही अदाकारा के साथ भद्दी हरकतें की, बल्कि इस पवित्र पेशे को कलंकित करने का काम किया, नर्स को मनोरंजन की वस्तु की तरह दिखाया। यह कहना है ऑल इंडिया गवर्नमेंट नर्स फेडरेशन की सदस्य प्रेम रोज सूरी का। फेडरेशन ने शो में कपिल के साथ नर्सों के अपमान पर ठहाके लगाने वाले भाजपा नेता एवं राज्यसभा सांसद नवजोत सिंह सिद्धू को भी कठघरे में खड़ा किया। फेडरेशन इस मुद्दे को लेकर आगामी 7 जून को जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करेगी। इस विरोध-प्रदर्शन को राष्ट्रव्यापी रूप देने के लिए सभी राज्यों और जिला इकाईयों से अपील की जाएगी कि वह अपने-अपने मुख्यालयों पर प्रदर्शन कर मान-सम्मान की आवाज उठाएं।
ऑल इंडिया टे्रनेड नर्स एसोसिएशन(TNAI) की महासचिव ई. कन्नन ने भी कपिल शर्मा के खिलाफ तीखी टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि नर्स देश का गौरव हैं। बीमार लोगों की सेवा करती हैं। उनके पेशे को किसी भी मनोरंजन कार्यक्रम का हिस्सा नहीं बनाया जाना चाहिए। प्रधानमंत्री और स्वास्थ्यमंत्री इस मामले को गंभीरता से लें और नर्सों का अपमान करने की हिम्मत करने वालों पर सख्ती बरतें, चाहे वह नेता हो या फिर अभिनेता।