नशीली टेबलेट और कफ सिरप की खेप के साथ 3 अरेस्ट किए

सीधी (मप्र)। नशीली टेबलेट और कफ सिरप के साथ तीन युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से मिले सिरप और टेबलेट की कीमत करीब एक लाख रुपये बताई गई है। तीनों आरोपी लंबे समय से इस काले धंधे से जुड़े हुए बताए गए हैं।

यह कार्रवाई डॉ. रविंद्र वर्मा पुलिस अधीक्षक के निर्देशन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अरविंद श्रीवास्तव व उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय गायत्री तिवारी के मार्गदर्शन में विशाल शर्मा थाना प्रभारी टीम ने की है।

यह है मामला

जमोड़ी के थाना प्रभारी विशाल शर्मा ने बताया कि उन्हें मुखबिर से सूचना मिली थी कि मोहित रावत, रामनरेश रावत एवं समयलाल यादव सभी निवासी पनवार सेंगरान पड़रा नाला के पास अवैध कफ सिरप बेचने के लिए रखे हैं। सूचना पर एक टीम गठित कर मुखबिर के बताए स्थान पर भेजी। मौके पर तीन युवक थैला लेकर बैठे थे, जोकि पुलिस को आता देखकर भागने का प्रयास करने लगे।

ये नशीली दवाइयां मिली

पुलिस टीम ने युवकों को घेराबंदी कर पकडऩे के बााद उनकी तलाशी ली। उनके थैले को खोलकर देखा गया तो उसमें ट्रामाडोल स्पासप्लस टैबलेट के कुल 20 डिब्बे 48000 नग कीमत करीब 43200 रुपये तथा आनरेक्स कफ सिरप की 110 नग कीमत 18700 रुपये कुल कीमत 61900 रुपये मिली।

इन नशीली दवाओं के विक्रय के संबंध में युवकों के पास कोई कागजात नहीं मिले। इसके चलते पुलिस ने ड्रग कंट्रोल अधिनियम की धारा एवं एनडीपीएस एक्ट की धारा के तहत कार्रवाई की और तीनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है।

इस कार्रवाई में थाना प्रभारी जमोड़ी उनि विशाल शर्मा, सउनि गोविन्द लाल साकेत प्रधान आरक्षक राजीव यादव, आरक्षक अभिषेक मिश्रा, सतीश तिवारी, मानेंद्र शुक्ला की सराहनीय भूमिका रही।