प्रतिबंधित दवा की तस्करी में गिरफ्तार दोषी को 10 साल कैद

सिरसा। प्रतिबंधित दवा की तस्करी मामले में गिरफ्तार दोषी को स्पेशल एनडीपीएस फास्ट ट्रैक कोर्ट ने 10 साल कैद और एक लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना न भरने पर एक साल अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा।

यह है मामला

सीआईए डबवाली पुलिस 8 नवंबर 2020 को इलाके में गश्त कर रही थी। इसी दौरान गांव अबूबशहर में पुलिस ने एक संदिग्ध युवक को हिरासत में लिया। युवक के पास प्लास्टिक का थैला था। पुलिस ने जब उसकी तलाशी ली तो थैले में से प्रतिबंधित दवा की एक हजार गोलियां बरामद हुई। पूछताछ में युवक की पहचान कालू राम निवासी गांव अबूबशहर के रूप में हुई। पुलिस ने कालू राम के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

एक लाख रुपये जुर्माना भी लगाया

पब्लिक प्रोसिक्यूटर मुनीष बजाज ने बताया कि न्यायाधीश डॉ. अशोक कुमार ने कालू राम को दोषी करार देते हुए 10 साल कैद की सजा सुना दी। फैसले से पहले दोषी ने न्यायाधीश से सजा में नरमी बरतने की गुहार लगाई थी। दोषी कालूराम ने कहा कि वह गरीब व्यक्ति है और उसकी बुजुर्ग मां बीमार है। उसके दो बच्चे हैं और उनकी देखभाल करने वाला उसके अलावा कोई दूसरा नहीं है। कोर्ट ने दोषी पर एक लाख रुपये जुर्माना भी लगाया है। जुर्माना न भरने पर एक साल अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा।