‘खिलौनों’ ने गुजरात को बनाया ‘सेक्सी’

नई दिल्ली: नवंबर की शुरुआत होते ही देश-विदेश के कारोबारी जगत की नजरें राजधानी स्थित प्रगति मैदान में लगने वाले अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले (ट्रेड फेयर) का इंतजार करने लगती हैं, लेकिन सेक्सी खिलौनों के कारोबारियों का रुख इन दिनों में गुजरात की ओर मुड़ जाता है। दरअसल, एक ताजा जानकारी में सामने आया है कि अहमदाबाद सेक्स टॉयज की खरीदारी में देश का तीसरा बड़ा शहर है। यहां नए शादीशुदा जोड़ों को आकर्षक गिफ्ट की बजाय अडल्ट गेम्स या इस तरह के कुछ और लुभावने प्रोडक्ट देने का रिवाज बन रहा है।

एक ऑनलाइन पोर्ट्ल्स द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक शादियों के सीजन यानी नवंबर से फरवरी तक इनकी बिक्री तेजी से बढ़ जाती है। पिछले कुछ सालों से अडल्ट टॉयज के बाजारों में गुजरात का नाम शीर्ष सूची में है। फॉरेन पोस्ट ऑफिस (एफपीओ) के हालिया खुलासे ने पुष्टि की है कि गुजरात के बड़े शहरों में सेक्स टॉयज का खुमार सिर चढ़ कर बोल रहा है। thatspersonal.com के सीईओ समीर सरैया की मानें तो शादियों के सीजन में उनका औसत ऑर्डर 4,500 रुपये तक पहुंच जाता है। गिफ्ट के लिए ग्राहक खास निर्देश भी देते हैं। देखने में आया कि शादी के गिफ्ट के तौर पर लोग एक लाख रुपये तक के अडल्ट प्रॉडक्ट्स खरीदते हैं। नवंबर से शुरू होने वाला कारोबार दिसंबर और जनवरी में अपने चरम पर होता है। मसलन बिक्री में तीन गुना तक वृद्धि दर्ज की गई है। आलम यह है कि नवरात्रि, वैलंटाइंस डे, क्रिसमस और न्यू इयर के दौरान भी सेक्स टॉयज की सेल में बंपर धमाका देखा गया है।

मजे की बात ये कि इस दौरान गर्भनिरोधक गोलियों और कंडोम की सेल भी इजाफा होता है। गुजरात स्टेट केमिस्ट्स ऐंड ड्रगिस्ट्स एसोसिएशन के आंकड़े भी इस सच से इतेफाक रखते हैं। गुजरात के भुज, आणंद और भावनगर जैसे छोटे शहरों में भी सेक्सी खिलौनों की बड़ी खपत है। महिलाओं के लिए उत्तेजक तेल, इरॉटिक अंडरगारमेंट्स, जेल और बॉडी पेंट जैसे प्रॉडक्ट्स डिमांड में रहते हैं। एक आंकड़े के मुताबिक गुजरात में अडल्ट प्रॉडक्ट खरीदने में पुरुष महिलाओं का अनुपात 59/41 प्रतिशत है।