ड्रग अधिकारियों की बदली से नाराज दवा विक्रेता

जयपुर: पिंक सिटी के दवा विके्रेता स्वास्थ्य मंत्री के सामने अपनी एक मांग रखने को लेकर चर्चा में आ गए। दवा विक्रेताओं ने स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ को दिए ज्ञापन में कहा कि ड्रग कंट्रोल अधिकारी (डीसीओ) को हर छह महीने में रोटेशन प्रणाली के चलते बदलने से उन्हें अच्छी-खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। विभाग से जुड़े उनके काम-काज में देरी होती है, जिससे दवा बेचने में कठिनाई आती है।
     जयपुर केमिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष अमरीश कौशिक के मुताबिक, दवा विक्रेता ऑनलाइन दवा बिक्री सिस्टम को लेकर भी गुस्से में है। उन्होंने कहा कि ड्रग्स एंड कॉस्मेटिक्स एक्ट के तहत दवाओं की ऑनलाइन बिक्री पूरी तरह गैरकानूनी है। आमजन को ज्यादा कमीशन का प्रलोभन देकर घटिया क्वालिटी की दवा एवं कॉस्मेटिक उत्पादबेचकर उनकी सेहत के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। ऑनलाइन दवा बिक्री केंद्रों पर फार्मासिस्टों की उपस्थिति की भी कोई गारंटी नहीं। उन्होंने सरकार से मांग की कि ऑनलाइन दवा बिक्री केंद्रो पर फार्मासिस्ट सुनिश्चित किया जाए, केवल उन्हीं दवा या कॉस्मेटिक उत्पादों की ऑनलाइन बिक्री का लाइसेंस दिया जाए जिससे मरीजों का स्वास्थ्य प्रभावित न हो। तीसरा ड्रग अधिकारियों की जल्दी-जल्दी बदली वाले सिस्टम को सुधारा जाए।