सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक की वैक्सीन को मिल सकती है इमरजेंसी यूज की मंजूरी ?

नई दिल्ली। ब्रिटेन में ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन को इमरजेंसी यूज की अनुमति दिए जाने के बाद ऐसा लग रहा है कि भारत में दो वैक्सीन प्रोजेक्ट को इसकी अनुमति दी जा सकती है। ड्रग कंट्रोल जनरल ऑफ इंडिया द्वारा बनाया एक्सपर्ट्स का पैनल SEC सीरम इंस्टिट्यूट और भारत बायोटेक की वैक्सीन के इमरजेंसी यूज पर विचार कर सकता है। इससे पहले इन दोनों वैक्सीन प्रोजेक्ट के इमरजेंसी यूज आवेदन को नकारा जा चुका है।

दरअसल भारत जैसे विकासशील देश में Pfizer की वैक्सीन के इस्तेमाल में कई तरह की चुनौतियां भी सामने आने वाली हैं। सबसे बड़ी चुनौती इस वैक्सीन के रख-रखाव की है। इसे -70 डिग्री तापमान पर स्टोर करके रखना है जिसके लिए बड़ी संख्या में विशेष फ्रीजर की आवश्यकता होगी। ग्रामीण इलाकों में इसकी व्यवस्था कर पाना चुनौती है। इसके उलट सीरम इंस्टिट्यूट की वैक्सीन को 2 से 8 डिग्री तापमान पर ही रखना है। इसे किसी भी सामान्य फ्रीज में रखा जा सकता है।

इसके अलावा स्वदेशी भारत-बायोटेक की वैक्सीन भी देश के लिए उपयोगी साबित हो सकती है। इसके अलावा अमेरिकी दवा कंपनी Pfizer भी SEC के सामने इमरजेंसी यूज के लिए अपना प्रजेंटेंशन दे सकती है। Pfizer की वैक्सी के इमरजेंसी यूज की अनुमति तो कई देशों में दी भी जा चुकी है। अमेरिका और ब्रिटेन में इसका इस्तेमाल शुरू किया जा चुका है। इसके अलावा Zydus भी अपने वैक्सीन प्रोजेक्ट के लिए तीसरे फेज का ट्रायल शुरू करने वाली है। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि दोनों वैक्सीन के इमरजेंसी यूज पर विचार किया जा सकता है।