पाकिस्तान ने अपनी कोविड-19 वैक्सीन की लॉन्च, नहीं बताया कितने फीसद है असरदार

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने देश के राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान (एनआईएच) में आयोजित एक समारोह के दौरान स्थानीय रूप से उत्पादित चीनी कैनसिनो कोविड-19 वैक्सीन को लॉन्च किया। पाकवैक (PakVac) नामक वैक्सीन के लॉन्चिंग समारोह को संबोधित करते हुए स्वास्थ्य पर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के विशेष सहायक फैसल सुल्तान ने कैनसिनो वैक्सीन के स्थानीय उत्पादन को देश के लिए एक मील का पत्थर बताया, जो कोविड -19 के खिलाफ पाकिस्तान की लड़ाई में अहम साबित हेगा।

सुल्तान ने कहा कि चीन एक सच्चा दोस्त है जो हमेशा मुश्किल समय में पाकिस्तान की मदद करता है। कोरोना वायरस के खिलाफ दोनों देशों के बीच वैक्सीन सहयोग ने दुनिया के अन्य देशों के लिए एक उदाहरण पेश किया है। उन्होंने आगे कहा कि कच्चे माल से वैक्सीन तैयार करना अपने आप में बहुत बड़ी चुनौती थी। आज हमें इस बात का फख्र है कि हमारी टीम ने तमाम दिक्कतों के बावजूद वैक्सीन तैयार करने में कामयाबी हासिल की है। आज का दिन देश के लिए बहुत अहम है।
पाकिस्तान के योजना और विकास मंत्री असद उमर, जो राष्ट्रीय कमान और संचालन केंद्र के प्रमुख भी हैं, उन्होंने समारोह में स्थानीय स्तर पर किए गए सर्वेक्षण के परिणामों को साझा करते हुए कहा कि बेहतर गुणवत्ता और प्रभावी परिणामों के लिए कैनसिनो वैक्सीन सहित चीनी टीके देश में पसंदीदा हैं।

पाकिस्तान में चीनी राजदूत नोंग रोंग ने कहा कि चीन और पाकिस्तान के बीच वैक्सीन सहयोग कोरोना वैक्सीन के आयात पर निर्भरता को कम करके कोविड -19 से लड़ने में पाकिस्तान के प्रयासों में योगदान देगा। चीनी दूत ने कहा कि चीन तब तक कोविड -19 के खिलाफ पाकिस्तान की लड़ाई का समर्थन करना जारी रखेगा, जबतक देश पूरी तरह से महामारी पर काबू नहीं पा लेता है।