प्रतिबंधित कफ सीरप की 120 बोतलों के साथ तस्कर गिरफ्तार

होलसेल सप्लायर

नुआपाडा (ओडिशा)। प्रतिबंधित कफ सीरप की 120 बोतलों के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार करने का समाचार है। नुआपाड़ा के कोमना में पुलिस ने एक व्यक्ति को काबू कर उसके कब्जे से 120 बोतल प्रतिबंधित कफ सिरप जब्त की। व्यक्ति को नशीली दवा की तस्करी के आरोप में गिरफ्तार कर केस दर्ज कर लिया गया। आरोपी को अदालत में पेश किया गया। कोर्ट ने आरोपी की जमानत याचिका खारिज कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

सूचना पर की कार्रवाई

कोमना पुलिस ने प्रतिबंधित कफ सिरप की तस्करी की सूचना पर यह कार्रवाई की। सूचना के तहत पुलिस टीमों ने अलग-अलग जगहों पर छापेमारी की। पुलिस की एक टीम भेला कृष्णा रोड पर वाहनों की जांच कर रही थी। पुलिस ने मोटरसाइकिल पर सवार कुछ लोगों को शक के आधार पर काबू किया। आरोपियों की तलाशी लेने पर पुलिस को प्रतिबंधित कफ सिरप की 120 बोतलें मिली हैं।

वारदात में इस्तेमाल बाइक और मोबाइल जब्त

कोमना पुलिस ने आरोपी की पहचान रेंगा गांव निवासीदेबेंद्र तांडी के रूप में की है। पुलिस पूछताछ में आरोपी से ये पता नहीं चल पाया कि वह प्रतिबंधित कफ सिरप की बोतलें कहां से लाया है। उसे गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने आरोपी तांडी के कब्जे से अपराध में इस्तेमाल की गई बाइक, 3000 रुपये नकद और एक मोबाइल फोन भी जब्त किया है।

गिरफ्तार आरोपियों से मिली जानकारी

प्रतिबंधित
Cough Syrup

नुआपाड़ा के एसडीपीओ संजय कुमार मंडल ने बताया कि पहले गिरफ्तार किए गए 21 आरोपियों से पूछताछ की गई थी। उनसे पता चला कि उद्यान बंद इलाके के देबेंद्र तांडी और नरेश गहिर कफ सिरप की तस्करी में शामिल थे। वे भवानीपटना और कांताबांजी इलाकों से बोतलें खरीदते थे और उन्हें कोमना इलाके में ऊंची कीमत पर बेचते थे। जबकि एक बोतल की मुद्रित कीमत 100 रुपये से 192 रुपये के बीच है। वे इसे 600 रुपये या उससे अधिक पर बेचते थे।

Advertisement