डोनेम इंजेक्शन ओवरप्राइस पर बेचा जा रहा था, फार्मेसी पर रेड कर पकड़ा मामला

हैदराबाद। डोनेम इंजेक्शन ओवरप्राइस का स्टॉक जब्त किया गया है। औषधि नियंत्रण प्रशासन के अधिकारियों ने निज़ामाबाद जिले के आर्मूर में दवा दुकान से एक अत्यधिक कीमत वाली एंटीबायोटिक, डोनेम इंजेक्शन (मेरोपेनेम इंजेक्शन आईपी 1 ग्राम) जब्त की है।

इसका ब्रांड नाम डोनेम है औरयह एंटीबायोटिक मेरोपेनेम इंजेक्शन आईपी 1 जी ड्रग्स (मूल्य नियंत्रण) आदेश, 2013 के अनुसार मूल्य नियंत्रण के अंतर्गत है। इसकी अधिकतम कीमत राष्ट्रीय फार्मास्युटिकल मूल्य निर्धारण प्राधिकरण द्वारा निर्धारित की गई है।

एक शीशी की कीमत 952.68 रुपए तय है

मेरोपेनेम इंजेक्शन आईपी 1 जी के लिए केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित अधिकतम कीमत 1 ग्राम शीशी के लिए 952.68 रुपए तय है। इसलिए अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) जीएसटी सहित 1 ग्राम शीशी के लिए 1067 रुपये से अधिक नहीं होना चाहिए। डोनेम इंजेक्शन (मेरोपेनेम इंजेक्शन आईपी 1 ग्राम)। डॉक्टर्स लाइफ साइंसेज (इंडिया) लिमिटेड, आंध्र प्रदेश द्वारा निर्मित है। कंपनी ने इस इंजेक्शन के लेबल पर 1 ग्राम शीशी के लिए 1899 रुपये कीमत अधिक रखकर वसूली की गई है।

डीसीए ने स्टॉक किया जब्त

डोनेम इंजेक्शन

डीसीए अधिकारियों ने मौके से दवा का स्टॉक जब्त कर लिया। कार्रवाई के दौरान टीम में आर. श्रीलता, ड्रग्स इंस्पेक्टर, निज़ामाबाद ग्रामीण द्वारा पी. सरला, उप निदेशक, निज़ामाबाद और एन. नरसैया, सहायक निदेशक, निज़ामाबाद शामिल रहे। छापेमारी के दौरान 36,081 कीमत के इंजेक्शन बरामद किए गए हैं।

डीसीए के महानिदेशक वी.बी.कमलासन रेड्डी ने कहा कि आवश्यक दवाओं की अधिक कीमत औषधि (मूल्य नियंत्रण) आदेश, 2013 के तहत उल्लंघन उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Advertisement