हरियाणा : होम्योपैथिक दवा के लिए रिटेल स्तर पर लाइसेंस जरूरी नहीं

अंबाला। अंबाला जोन के लाइसेंसिंग अथॉरिटी अधिकारी ललित गोयल के पदोन्नत होकर सहायक राज्य औषधि नियंत्रक बनने पर जिला अंबाला केमिस्ट एसोसिएशन के तत्वावधान में समारोह हुआ। जहां ड्रग विभाग के सभी वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित हुए। उनके स्थान पर पदोन्नत होकर अंबाला जोन के लाइसेंसिंग अथॉरिटी बने गुरचरण सिंह का भी सम्मान किया गया। समारोह के दौरान ललित गोयल ने दवा व्यवसाइयों को जागरूक करते हुए बताया कि दवाओं को उचित तापमान पर रखें। होम्योपैथिक दवाओं के लिए रिटेल स्तर पर लाइसेंस लेने की कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने गुडनाइट मेट, बैंगो स्प्रे की बिक्री के लिए पेस्टिसिड लाइसेंस लेने की अनिवार्यता के बारे में भी बताया।

 गुरचरण सिंह ने कहा कि वे पहले यहां डीसीओ रहे हैं। प्रत्येक को निजी तौर पर जानते हैं। अब बतौर लाइसेंसिंग अथॉरिटी किसी को भी परेशानी नहीं होने दी जाएगी। जीएसटी पर अधिवक्ता भास्कर शर्मा ने दवा विक्रेताओं को जागरूक करते हुए उनकी संकायों का समाधान किया। इसमौके पर औषधि प्रशासन मुख्यालय से नरेंद्र आहूजा ने जिलेभर से आए अंबाला कैंट रिटेल, होलसेल, सिटी रिटेल होलसेल, शहजादपुर, साहा, बराड़ा, मुलाना, नारायणगढ़ के दवा विक्रेताओं को नशे की दवाओं की नाजायज बिक्री करने से परहेज करने, दवाओं को उचित तापमान पर रखने, दवाइयां एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने के लिए वाहन को भी 20 बीबी, 21 बीबी के अंतर्गत पंजीकृत करवाने की सलाह दी। उन्होंने इस मौके पर दवा विक्रेताओं को शपथ दिलवाई कि दवा वही बेचेंगे जो जरूरत पडऩे पर अपने परिजनों को भी खिला सकें। डिप्टी स्टेट कंट्रोलर आदर्श गोयल,पदम सिंह राठी सहायक राज्य औषधि नियंत्रक और दिनेश राणा डीसीओ अंबाला ने भी दवा विक्रेताओं का ज्ञानवर्धन किया। इस मौके पर हरियाणा स्टेट केमिस्ट एसोसिएशन के राज्य अध्यक्ष मनजीत शर्मा, राज्य महासचिव अशोक सिंगला, जिला अध्यक्ष राज कुमार शर्मा, जिला महासचिव वीरेंद्र गर्ग समेत भारी संख्या में दवा विक्रेता मौजूद थे ।