जेनरिक दवा मांगने पर भी केमिस्ट थमा रहे ब्रांडेड

चंबा (हप्र)। प्रदेश में ब्रांडेड दवाओं का मोह छूट नहीं पा रहा है। अधिकतर डॉक्टरों की ओर से अभी तक ब्रांडेड दवाएं लिखी जा रही हैं। इसके बावजूद हालत यह है कि अब केमिस्ट भी मनमर्जी कर मरीजों को ब्रांडेड दवाएं थमाने लग गए हैं। लोगों को दवा के साल्ट की जानकारी न होने के कारण उनको ठगा जा रहा है।

ऐसे कई मामले जिला चंबा में सामने आ रहे हैं। हालांकि प्रदेश सरकार ने डॉक्टरों को मरीजों को जेनरिक दवाएं लिखने के आदेश दिए हैं। चिकित्सक अगर जेनरिक दवाएं लिख भी देते हैं तो केमिस्ट तीमारदारों की अज्ञानता का फायदा उठाकर उसी साल्ट की अन्य कंपनी की दवा दे रहे हैं। ऐसे में सरकार की जेनरिक दवाएं लिखने की मुहिम को भी झटका लग रहा है।