अस्पताल की बड़ी लापरवाही आयी सामने, डॉक्टर, नर्स देखते रहे तमाशा सीढ़ियों पर महिला ने बच्चे को जन्म दिया

अस्पताल की बड़ी लापरवाही आयी सामने, डॉक्टर, नर्स देखते रहे तमाशा सीढ़ियों पर महिला ने बच्चे को जन्म दिया

pregnant Woman delivery: मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिला अस्पताल से (Shivpuri District hospital) अस्पताल प्रशासन की बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है। यहां डॉक्टर और नर्स बस खड़े होकर तमाशा देखते रहे और अस्पताल की सीढ़ियों पर प्रग्नेंट महिला ने बच्चे (pregnant Woman delivery) को जन्म दिया। लेकिन महिला की मदद करने के लिए वहां कोई नहीं आया।

1 घंटे लेट पहुंची एंबुलेंस (pregnant Woman delivery) 

महिला के पति अरुण परिहार ने बताया कि उनकी पत्नी की डिलीवरी होने वाली थी। उसके पेट में बहुत तेज दर्द हो रहा था। इसलिए वो अपनी पत्नी को खतौरा के स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचा था।  जहां से शिवपुरी रेफर कर दिया। एंबुलेंस को फोन किया तो एंबुलेस भी करीब 1 घंटे लेट पहुंची। महिला का दर्द काफी बढ़ गया। अरुण परिहार ने एबुलेंस ड्राइवर से ये भी कहा कि कोलारस स्वास्थ्य केंद्र ले चलो लेकिन ड्राइवर ने एबुलेंस को नहीं रोका। यदि कोलारस स्वास्थ्य केंद्र ले जाते तो शिवपुरी जिला अस्पातल में जमीन पर डिलीवरी नहीं होती।

अरुण परिहार का कहना है कि पत्नी की यह दूसरी डिलीवरी है। इससे पहले भी एक डिलीवरी हो चुकी है। ईश्वर की कृपा है कि जच्चा-बच्चा स्वस्थ हैं। लेकिन इस तरह खुलेआम डिलीवरी होना अच्छी बात नहीं है। इस पर अस्पताल को ध्यान देना चाहिए।

डॉक्टर ने बताया जज्जा बच्चा स्वस्थ 

इस मामले पर शिवपुरी जिला अस्पताल के डॉक्टर संतोष पाठक ने बताया है कि उन्हें पूरे मामले की जानकारी नहीं है। मेरे पास जब जानकारी आई तो मैंने तुरंत ही स्ट्रेचर से महिला को एडमिट करवाया। जहां जच्चा औऱ बच्चा दोनों ही सुरक्षित है।

ये भी पढ़ें- पश्चिम बंगाल में क्लिनिकल फार्मासिस्ट तैयार कर रहे हैं AMS प्रोग्राम

वहीं इस घटना को लेकर एबुलेंस के ड्राइवर का कहना है कि मैं स्ट्रेचर लेने अस्पताल के अंदर चला गया था। मुझे नहीं पता कि महिला एंबुलेंस से नीचे कैसे उतरी।

 

Advertisement