होम्योपैथिक और आयुर्वेदिक दवाइयां जब्त, लेबल पर भ्रामक दावा करने का मामला

तेलंगाना। होम्योपैथिक और आयुर्वेदिक दवाइयां जब्त करने का मामला सामने आया है। बताया गया है कि इन दवाओं के लेबल पर भ्रामक दावा किया गया था।

राज्य डीसीए (ड्रग कंट्रोल एडमिनिस्ट्रेशन) के अधिकारियों ने भ्रामक विज्ञापनों के लिए लोकप्रिय होम्योपैथिक और आयुर्वेदिक दवाओं को जब्त कर लिया। उन्होंने रविवार को राज्य के विभिन्न हिस्सों में एक होम्योपैथिक और एक आयुर्वेदिक दवा जब्त की।

डीसीए के महानिदेशक वीबी कमलासन रेड्डी के अनुसार डीसीए अधिकारियों ने रंगा रेड्डी जिले के शमशाबाद गांव में एक मेडिकल दुकान पर छापेमारी की। बाजार में कुछ खास दवाइयोंं के लेबल पर भ्रामक दावा किया हुआ मिला। टीम ने दवाओं के स्टॉक को जब्त कर लिया।

होम्योपैथिक दवा लॉर्ड्स स्टोनिल टैबलेट्स बरामद

ड्रग इंस्पेक्टर शबद और के अन्वेष ने एक विशेष ऑपरेशन के दौरान हरियाणा स्थित लॉर्ड्स होम्योपैथिक लैब (पी) द्वारा निर्मित एक होम्योपैथिक दवा लॉर्ड्स स्टोनिल टैबलेट्स मिली।. इन दवाओं पर गुर्दे की पथरी और महिलाओं की स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज का दावा किया गया था। कुछ बीमारियों और विकारों के इलाज के बारे में इस तरह के भ्रामक बयान को ड्रग्स एंड मैजिक रेमेडीज (आपत्तिजनक विज्ञापन) अधिनियम, 1954 का उल्लंघन माना जाता है।

महानिदेशक वीबी कमलासन रेड्डी का कहना है कि जो लोग ऐसे भ्रामक विज्ञापन कर रहे हैं, उन्हें इस अधिनियम के तहत कारावास की सजा हो सकती है।