हॉस्पिटल के ब्लड सेंटर का लाइसेंस सस्पेंड, विधायक का है ये अस्पताल

फर्रुखाबाद। हॉस्पिटल के ब्लड बैंक का लाइसेंस सस्पेंड करने का समाचार है। जांच के दौरान डॉक्टर सलाह के बिना ही रक्तदान कराने का मामला सामने आया है।

यह है मामला

शहर के आवास विकास तिराहा स्थित सिटी हास्पिटल का संचालन कायमगंज विधायक डॉ. सुरभी के पति अजीत गंगवार चलाते हैं। औषधि निरीक्षक रजत कुमार पांडेय ने बताया कि सिटी हास्पिटल में संचालित ब्लड सेंटर का पूर्व में निरीक्षण किया गया था। उस दौरान कई कमियां पाई गई थीं।

निरीक्षण में मिली थी कई कमियां

डोनर रजिस्टर पर किसी डॉक्टर के हस्ताक्षर नहीं थे। इससे साफ है कि रक्तदाता की जांच किए बिना रक्तदान कराया जा रहा था। यह नियम विरुद्ध है। अन्य कमियां भी मिली थीं। उनकी जांच रिपोर्ट पर कमियों को देखते हुए औषधि अनुज्ञापन एवं नियंत्रण प्राधिकारी, मुख्यालय खाद्य सुरक्षा औषधि प्रशासन लखनऊ द्वारा सिटी हॉस्पिटल ब्लड सेंटर का लाइसेंस सस्पेंड कर दिया गया है।

ब्लड सेंटर में रक्तदान पर रोक

औषधि निरीक्षक ने बताया कि इन कमियों के दूर होने तक ब्लड सेंटर में रक्तदान व रक्त की बिक्री पर रोक लगा दी गई। जांच पूरी होने तक रक्तदान व विक्रय करना प्रतिबंधित रहेगा।

मेडिकल स्टोरों पर फार्मासिस्ट नहीं मिले

अन्य मामले में औषधि निरीक्षक ने मेडिकल स्टोरों पर छापा मारा। इस दौरान कई स्टोरों पर फार्मासिस्ट नहीं मिले। कमियों के संबंध में उन्हें नोटिस दिया गया। दो दवाओं के सैंपल भी लिए गए हैं।

जिलाधिकारी के निर्देश पर औषधि निरीक्षक रजत कुमार पांडेय ने मेडिकल स्टोरों की जांच की। उन्होंने नाला बघार स्थित सिद्धार्थ व दुबे मेडिकल स्टोर से दवा का एक-एक सैंपल लिया। दोनों मेडिकल स्टोरों पर फार्मासिस्ट नहीं मिले। फर्म द्वारा सभी मरीजों को दवा बिक्री रसीद नहीं दी जा रही थी। गांव देवरामपुर में बृजेश मेडिकल स्टोर के निरीक्षण के दौरान फार्मासिस्ट रोहित कुमार मौजूद मिला, लेकिन दवा लेने वालों को बिक्री रसीद नहीं दी जा रही थी।

संचालकों को कारण बताओ नोटिस जारी

औषधि निरीक्षक ने बताया कि मेडिकल स्टोर पर कमियों के संबंध में संचालकों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। दो संदिग्ध दवाओं की जांच के लिए सैंपल राजकीय प्रयोगशाला लखनऊ भेजे गए हैं।