गूगल के सर्च इंजन में खोजें बीमारी की जड़

एम्स, अपोलो के अलावा विदेशी विशेषज्ञों के सहयोग से चार सौ से अधिक बीमारियों की सटीक जानकारी उपलब्ध 
नई दिल्ली

हर व्यक्ति की जरनल नॉलेज का साथी गूगल अब स्वास्थ्य क्षेत्र में भी विश्वसनीयता बनाने में जुटा है। जानकारी के मुताबिक गूगल भारत के संदर्भ में चार सौ से ज्यादा स्वास्थ्य समस्याओं की सटीक और प्रामाणिक जानकारी उपलब्ध करवाई है। कंप्यूटर के साथ ही एंड्रॉयड एप्लीकेशन के जरिये मोबाइल पर भी गूगल पर सर्च करने पर इन विषयों पर हेल्थ कार्ड के रूप में अलग से जानकारी मिलेगी। हालांकि, इन बीमारियों का इलाज कहां करवाएं, इस संबंध में अपनी ओर से कोई सलाह देने से परहेज किया है। सर्च करने पर सामने आने वाले इस हेल्थ कार्ड में बीमारियों के लक्षण, इलाज, टीके, जांच आदि के बारे में सामान्य जानकारियों के साथ ही उससे जुड़े ग्राफिक और चित्र भी दिखाई देंगे। इससे उन बीमारियों के बारे में सामान्य जानकारी हासिल करना आसान हो जाएगा। गूगल अब तक आम तौर पर अपने सर्च इंजन के जरिये विभिन्न वेबसाइट तक पहुंचाता रहा है। लेकिन, उनकी जानकारी कितनी विश्वसनीय है, इस बारे में कोई दावा नहीं करता। मगर इन चार सौ से ज्यादा बीमारियों के बारे में सर्च करने पर उन वेबसाइट के लिंक तो खुलेंगे ही, दाईं ओर अलग से एक बॉक्स के रूप में हेल्थ कार्ड खुलेगा।
इसमें दी गई जानकारी विशेषज्ञों से प्रमाणित होगी। यहां यह भी पता चल सकेगा कि यह समस्या कितनी आम है और इसमें आम तौर पर कितना खतरा होता है।
गूगल के सीनियर प्रोडक्ट मैनेजर प्रेम रामास्वामी कहते हैं, ‘दुनिया भर में लोग गूगल में सबसे ज्यादा जिस संबंध में सर्च करते हैं, उसमें स्वास्थ्य बहुत प्रमुख है। औसतन 20 में एक सर्च स्वास्थ्य के बारे में ही होती है। गूगल लगभग एक साल पहले अमेरिका और लगभग दो हफ्ते पहले ब्राजील में ऐसी ही सेवा शुरू कर चुका है। यहां बीमारी से जुड़ी पूरी जानकारी पीडीएफ फाइल के रूप में डाउनलोड भी की जा सकती है। गूगल का दावा है कि उसने हिंदी में भी यह सेवा शुरू की है। वैसे, अभी हिंदूी में सर्च करने पर यह अंग्रेजी में ही संबंधित नतीजे दिखाता है। गूगल ने सूचना को प्रमाणित करने के लिए अपोलो और कोलंबिया एशिया जैसे निजी अस्पतालों के साथ ही एम्स जैसे संस्थानों के डॉक्टरों की भी सेवाएं ली हैं।