बच्चों की इम्युनिटी बढ़ाने वाली दवा ‘बाल रक्षा किट’ तैयार, जानिए औषधीयों से हुई तैयार

कोरोना की तीसरी लहर से बच्चों को बचाने के लिए ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद (AIIA) ने 16 साल तक की आयु के बच्चों के लिए इम्युनिटी बढ़ाने वाली दवा 'बाल रक्षा किट' तैयार की है। अधिकारियों ने बताया कि आयुष मंत्रालय की सख्त गाइडलाइंस के तहत किट तैयार किया गया है।

नई दिल्ली। कोरोना की तीसरी लहर से बच्चों को बचाने के लिए ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद (AIIA) ने 16 साल तक की आयु के बच्चों के लिए इम्युनिटी बढ़ाने वाली दवा ‘बाल रक्षा किट’ तैयार की है। अधिकारियों ने बताया कि आयुष मंत्रालय की सख्त गाइडलाइंस के तहत किट तैयार किया गया है। उत्तराखंड में प्लांट वाले सरकारी उपक्रम इंडियन मेडिसीन फार्मास्युटिकल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (IMPCL) की ओर से इसका उत्पादन किया गया है।

बता दें कि AIIA आयुष मंत्रालय के अधीन है। मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि यह किट बच्चों को कोरोना संक्रमण से लड़ने और उन्हें स्वस्थ रखने में मदद करेगा। AIIA की निदेशक डॉ तनुजा नेसारी ने कहा कि बच्चों को अक्सर काढ़े और गोलियां लेने में कठिनाई का सामना करना पड़ता है। चूंकि काढ़ा कड़वा होता है और बच्चों के लिए यह पीना मुश्किल होता है, ऐसे में काढ़े का एक सीरप बनाया गया है, जिसमें कुछ और दवाएं मिलाई गईं हैं, जो सर्दी खांसी से बचाने वाली हैं।

2 नवंबर को राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस पर AIIA की ओर से 10 हजार मुफ्त किट बांटे जाएंगे। उन्होंने कहा कि चूंकि भारत में अभी बच्चों के लिए कोई वैक्सीन उपलब्ध नहीं है, बच्चों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर बाल सुरक्षा किट का निर्माण बेहद अहम है। अधिकारियों के मुताबिक, इस किट में तुलसी, गिलोय, दालचीनी, मुलैठी और सूखे अंगूर से तैयार सीरप, जिसमें बेहतरीन औषधीय गुण हैं, के अलावा अणु तेल, सितोपलादि और च्यवनप्राश शामिल है, जिनके लगातार उपभोग से बच्चों में इम्युनिटी का स्तर मजबूत होता है।