एक्यूट इंसेफ्लाइटिस से ठीक हो चुके बच्चों के स्वास्थ्य की होगी नियमित जांच

एक्यूट इंसेफ्लाइटिस
एक्यूट इंसेफ्लाइटिस

मुजफ्फरपुर : बिहार के मुजफ्फरपुर में एक्यूट इंसेफ्लाइटिस (Acute Encephalitis Syndrome ) बीमारी से ठीक हो चुके बच्चों के स्वास्थ्य की अब नियमित जांच होगी।

परिजनों का कहना है कि Acute Encephalitis Syndrome से ठीक हो चुके बच्चों के ठीक हो जाने के बाद भी मरीजों की परेशानी पूरी तरह समाप्त नहीं हो रही है।

मुजफ्फरपुर के सूचना जनसंपर्क अधिकारी कमल सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य जांच में देखा जाएगा कि एईएस से ठीक हो चुके बच्चों की क्या स्थिति है तथा उन्हें कोई समस्या तो नहीं है।

परीक्षण के दौरान यह भी देखा जाएगा कि मरीजों के ठीक होने के बाद तुरंत फिर से उनकी तबीयत तो नहीं खराब हो रही है। जांच के दौरान एईएस से उसके स्वास्थ्य पर क्या असर डाला और उसके वजन में क्या अंतर आया है, इसकी भी जांच की जाएगी।

सिंह बताते हैं कि इस साल इस बिमारी से ठीक होने वाले मरीजों का प्रतिशत 95 प्रतिशत से ऊपर है। उन्होंने कहा कि अब तक इस बीमारी से पीड़ित 25 बच्चे श्रीकृष्ण चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल (एसकेएमसीएच) में भर्ती हुए हैं, जिसमें से दो की मौत हो चुकी है।

इधर, मरीज के परिजनों का कहना है कि अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद भी बच्चों में कुछ परेशानी रह जा रही है।

Advertisement