बिना लाइसेंस फूड और मेडिसिन सप्लीमेंट बनाती दो फर्म पकड़ी

अमृतसर

स्वास्थ्य विभाग की एक उच्च स्तरीय टीम ने जब फूड सप्लीमेंट और मेडिसिन सप्लीमेंट की दो फर्मो पर छापा मारा तो सामने आया कि बिना लाइसेंस के वह इस काम को अंजाम दे रहे थे।
जानकारी के अनुसार चंडीगढ़ से आई टीम ने लॉरेंस रोड स्थित न्यूट्रीशियन मार्ट और बीडी इंटरप्राइजेज कॉरपोरेशन में छापामारी कर फूड सप्लीमेंट और मेडिसिन सप्लीमेंट के सैंपल भरे। ये प्रोडक्ट्स शरीर के हार्मोस में परिवर्तन लाकर शरीर में फुलावट लाने का काम करते हैं। एक गुप्त सूचना पर जोनल लाइसेंसिंग अथारिटी चंडीगढ़ (सेंट्रल सेल) की टीम ने लॉरेंस रोड स्थित नेहरू शॉपिंग कांप्लेक्स के द्वितीय तल पर दबिश दी। यहां न्यूट्रीशियन मार्ट नामक एक फर्म में भारी मात्रा में मसल्स बनाने में प्रयुक्तहोने वाला सामान रखा था। टीम ने में शामिल अधिकारी दिनेश गुप्ता ने अमृतसर के जोनल लाइसेंसिंग अथारिटी और ड्रग विभाग के अधिकारियों को साथ लेकर प्रोडक्ट्स की जांच शुरू की।

न्यूट्रीशियन मार्ट के संचालक अमनदीप सिंह द्वारा दुकान के साथ-साथ एक गोदाम भी बनाया हुआ था। टीम ने न्यूट्रीशयन मार्ट के गोदाम में जांच की तो यहां भारी मात्रा में मेडिसिन सप्लीमेंट और इंजेक्शन बरामद हुए। इन दवाओं का प्रयोग शरीर में एनर्जी लाने के लिए किया जाता है। इसी प्रकार फूड सप्लीमेंट में स्टॉरायड, लंबाई बढ़ाने वाले पाउडर, बायो प्रोटीन, फैट बर्नर प्रोडक्ट, क्रेट्रीन सहित 15 प्रकार के डाइटरी सप्लीमेंट की जांच के लिए सैंपलिंग की गई। इसके बाद टीम ने बीडी इंटरप्राइजेज कॉरपोरेशन के यहां छापा मारा। इस फर्म को चलाने के लिए भी लाइसेंस नहीं था। विभाग ने यहां से भी सैंपल भरे।

जोनल ड्रग लाइसेंसिंग अथारिटी कुलविंदर सिंह ने बताया कि ये प्रोडक्ट फूड एवं ड्रग की श्रेणी में आते हैं। इन्हें बेचने के लिए स्वास्थ्य विभाग का लाइसेंस अनिवार्य है। बहरहाल, सभी सैंपलों को जांच के लिए चंडीगढ़ स्थित लेबोरेट्री में भेजा जा रहा है। रिपोर्ट आने के बाद ही इनकी गुणवत्ता स्पष्ट हो सकेगी।

घातक है सप्लीमेंट का सेवन: स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि इन पदार्थो के अत्यधिक सेवन से किडनी, लीवर और मस्तिष्क पर गहरा प्रभाव पड़ता है। कई बार व्यक्तिकी मौत हो जाती है। अहम बात यह है कि बलशाली बनने के लिए खरीदे जा रहे ये प्रोडक्ट बहुत महंगे हैं। एक प्रोडक्ट की कीमत तकरीबन दो हजार रुपए आंकी गई है।