मध्य भारत का बड़ा दवा बाजार दो साल में डेवलप करने की तैयारी

रायपुर
छत्तीसगढ़ ही नहीं, पूरे मध्य भारत का सबसे बड़ा दवा बाजार रायपुर-बिलासपुर रोड में उरला के करीब बसेगा। करीब 50 एकड़ में बाजार बसाने की तैयारी की जा रही है। दवा मार्केट दो साल में डेवलप करने की तैयारी है। जहां दवा बाजार बसाया जाने वाला है। वहां सडक़-रेल कनेक्टिविटी के अलावा ऐसी व्यापारिक सुविधाएं विकसित की जा रही हैं कि यह सिर्फ दवा कारोबार ही नहीं, बल्कि और भी कई थोक कारोबार के लिए फायदेमंद साबित होने वाला है।
छत्तीसगढ़ के दवा कारोबार से अभी ओडिशा, महाराष्ट्र, उत्तरप्रदेश, झारखंड, बिहार, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना आदि राज्य सीधे जुड़े हैं। रायपुर में 600 बड़े दवा कारोबारी हैं, जबकि राज्यभर में थोक-रिटेलर को मिलाकर इनकी संख्या 2000 से ज्यादा है। राज्य में करीब 10 फार्मा कंपनियां हैं। नए दवा बाजार में राजधानी ही नहीं, राज्यभर के दवा कारोबारियों को एक परिसर में लाने की योजना है।