भिवाडी की दवा फैक्ट्री से सवा दो करोड़ की नशीली दवा जब्त

अलवर

भिवाड़ी औद्योगिक क्षेत्र की एक दवा फैक्ट्री में करोड़ों रुपए की नशीली दवा कैटामाइन की खेप बरामद हुई। मामले में राजस्व खुफिया निदेशालय ने मालिक को गिरफ्तार कर लिया है। कैटामाइन महानगरों की हाईप्रोफाइल रेव पार्टियों में सप्लाई होने वाली ड्रग है। कंपनी से बड़ी मात्रा में कच्चा माल भी बरामद हुआ है। गत दिसम्बर में राजस्व खुफिया निदेशालय दिल्ली मुख्यालय की टीम ने अलवर के भिवाड़ी औद्योगिक क्षेत्र स्थित एक कम्पनी में छापा मारा। वहां से 65 किलो कैटामाइन व करीब 12 किलो कच्चा माल बरामद किया। जब्त माल की कीमत दो करोड़ 27 लाख रुपए के आसपास आंकी गई है।

टीम ने कम्पनी में काम करने वाले चार कर्मचारियों को पूछताछ के बाद छोड़ दिया तथा मालिक विकास कुमार को दिल्ली के पालम क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। यह पहला मौका नहीं हैए इससे पहले भी अलवर जिले में कई बार करोड़ों रुपए की कैटामाइन मिल चुकी है। कैटामाइन बड़े क्लब बार पबों में होने वाली हाईप्रोफाइल रैव पार्टी में सप्लाई होती है।

चार माह से चल रहा है कारोबार – सूत्रों ने बताया कि भिवाड़ी में करीब चार माह से यह कारोबार चल रहा था। यहां से यह नशीली दवा देश में कहां सप्लाई होती थी इसका पता लगाया जा रहा है।
मामले में कार्यवाही की बाद में रिपोर्ट पेश की जाएगी। कम्पनी में काम करने वाले लोगों को पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया है। पूछताछ में पता चला है कि काम करने वाले कर्मचारियों को कम्पनी में बनने वाले सामान के बारे में कोई जानकारी नहीं थी।