इंसानों में पहली बार मिला स्वाइन फ्लू का वायरस

इंसानों में पहली बार मिला स्वाइन फ्लू का वायरस

Swine Flu : चीन में एक ओर जहां मिस्ट्री निमोनिया बड़ी आफत बन चुका है। वहीं दूसरी ओर ब्रिटेन में पहली बार इंसान में स्वाइन फ्लू का वायरस मिला है। सूअर में पाये जाने स्वाइन फ्लू का पहला मामला इंसान में पाया गया है। स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि मरीज के करीबियों पर नजर रखी जा रही है जो बीते दिनों उसके संपर्क में आए थे। ये सूचना विश्व स्वास्थ्य संगठन को भी दे दी गई है।

यूके स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी (एचएसए) ने जानकारी दी कि मरीज को सांस लेने में परेशानी हो रही थी, इसलिए वह डॉक्टर के पास जांच के लिए पहुंचा था। यहां जांच के दौरान ये सामने आय़ा कि उनमें स्वाइन फ्लू का नया स्ट्रेन पाया गया है। यूकेएचएसए की इंसीडेंट डायरेक्टर डॉ. मीरा चंद ने बताया कि देश के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है, जब हमें किसी व्यक्ति में स्वाइन फ्लू मिला है। मरीज पिछले कुछ दिनों में किस-किस से मिला और कहां-कहां गया, सब कुछ की जांच कर रहे हैं। हम उसके करीबियों का भी पता लगा रहे हैं। फ्लू के प्रसार पर रोक लगाने के लिए हम तेजी से काम कर रहे हैं। हम सभी कारणों की भी तलाश कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें- नोएडा में नशीले पदार्थों के रैकेट का पर्दाफाश, यूनिवर्सिटी छात्र समेत 9 आरोपी गिरफ्तार

यूकेएचएसए की मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी क्रिस्टीन मिडलमिस का कहना है कि जानवरों की कुछ बीमारियां इंसानों को भी हो सकती हैं। हम विभिन्न विभागों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। हमने सूअर पालकों को भी आदेश जारी किए हैं कि उनके यहां अगर सूअर को फ्लू हुआ है तो इसकी जानकारी वो हमें दें।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि सूअरों में फैलने वाला इन्फ्लूएंजा वायरस जब किसी इंसान में पाया जाता है, तो इसे वेरिएंट इन्फ्लूएंजा वायरस कहते हैं। एच1एन1, एच1एन2 और एच3एन2 आदि सूअरों में पाए जाने वाले वायरस के टाइप  हैं, जिससे कभी-कभी इंसान भी संक्रमित हो जाता है।

स्वाइन फ्लू के आम तौर पर होने वाले लक्षण-

  1. बुखार आना
  2. सिरदर्द होना
  3. डायरिया होना
  4. खांसी आना
  5. छींक आना
  6. ठंड लगना
  7. गले में खराश होना
  8. थकान
  9. नासिका मार्ग ब्लॉक होना
Advertisement