डब्ल्यूएचओ ने सिरप और सस्पेंशन दवाओं को लेकर अलर्ट जारी किया

जिनेवा। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने घटिया स्तर की पांच अलग-अलग सिरप और सस्पेंशन दवाओं को लेकर अलर्ट जारी किया है। यह अलर्ट मालदीव और पाकिस्तान में पाई गईं निम्न स्तरीय दवाओं को लेकर किया गया है। इन पांच दवाओं में एलर्जो सिरप, एमिडोन सस्पेंशन, म्यूकोरिड सिरप, उलकोफिन सस्पेंशन और जऩिसेल सिरप के नाम शामिल हैं। उपरोक्त उत्पादों के कुल 23 बैच प्रभावित हुए बताए गए हैं। इन सभी प्रभावित उत्पादों का पकिस्तान की फार्मिक्स लेबोरेटरीज (पीवीटी) लिमिटेड में हुआ है।

एमएफडीए ने की थी जांच

डायथिलीन ग्लाइकॉल और एथिलीन ग्लाइकॉल के लिए पतली परत क्रोमैटोग्राफी (टीएलसी) परीक्षण के अनुसार एलर्जो सिरप के पांच अलग-अलग बैचों के सैंपल की जांच की गई थी। यह जांच मालदीव फूड एंड ड्रग अथॉरिटी (एमएफडीए) की गुणवत्ता नियंत्रण प्रयोगशाला द्वारा की गई थी।

इंटरनेशनल फार्माकोपिया में शामिल करने के लिए। नियमित जांच में संदूषकों के रूप में डायथिलीन ग्लाइकॉल और एथिलीन ग्लाइकॉल की संभावित अस्वीकार्य मात्रा का पता चला। ऑस्ट्रेलिया की प्रयोगशाला परीक्षण से पता चला कि सभी पांच बैच 0.10 प्रतिशत 2/2 से अधिक की स्वीकृत सीमा के सापेक्ष 0.62 से 0.82 फीसदी 2/2 के स्तर पर एथिलीन ग्लाइकॉल से दूषित थे।

ड्रग रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ पाकिस्तान (डीआरएपी) ने फार्मिक्स लैबोरेटरीज (पीवीटी) लिमिटेड का निरीक्षण किया। डीआरएपी की समीक्षा से पता चलता है कि डायथिलीन ग्लाइकॉल/एथिलीन ग्लाइकॉल संदूषक के रूप में फार्मिक्स लेबोरेटरीज (पीवीटी) द्वारा निर्मित अन्य उत्पादों और बैचों में मौजूद हो सकता है। इसलिए, इन उत्पादों की सुरक्षा और गुणवत्ता की गारंटी नहीं दी जा सकती।

सुरक्षा के लिहाज से फार्मिक्स लैबोरेटरीज को सभी मौखिक तरल खुराक वाली दवाओं का उत्पादन बंद करने का निर्देश दिया गया है। फार्मिक्स लैबोरेट्रीज द्वारा निर्मित पांच अलग-अलग सिरप दवाओं के लिए एक रिकॉल अलर्ट भी जारी किया है। इस अलर्ट में बताया गया कि संदर्भित उत्पाद औपचारिक और अनौपचारिक बाजारों के माध्यम से अन्य देशों या क्षेत्रों में वितरित किए गए हो सकते हैं।

डब्ल्यूएचओ को इन उत्पादों के प्रतिकूल प्रभावों की कोई रिपोर्ट अभी नहीं मिली है। जबकि यह चिकित्सा उत्पाद चेतावनी विशेष रूप से अनुबंध में संदर्भित उत्पादों से संबंधित है। डब्ल्यूएचओ ने पहले अन्य दूषित तरल खुराक वाली दवाओं पर छह अलर्ट प्रकाशित किए हैं।

डायथिलीन व एथिलीन ग्लाइकॉल मानव के लिए जानलेवा

बता दें कि डायथिलीन ग्लाइकॉल और एथिलीन ग्लाइकॉल सेवन करने पर मनुष्यों के लिए जहरीले होते हैं और घातक साबित हो सकते हैं। अलर्ट में बताया गया है कि संदर्भित घटिया उत्पाद असुरक्षित हैं। विशेष रूप से बच्चों में उनके उपयोग से गंभीर चोट या मृत्यु हो सकती है। विषाक्त प्रभावों में पेट में दर्द, उल्टी, दस्त, पेशाब करने में असमर्थता, सिरदर्द, परिवर्तित मानसिक स्थिति और तीव्र गुर्दे की चोट शामिल हो सकती है। इससे मौत भी हो सकती है।

डब्ल्यूएचओ ने निगरानी बढ़ाने का अनुरोध किया

डब्ल्यूएचओ ने किसी भी प्रभावित उत्पाद का उपयोग न करने के लिए चेताया है। यदि इन उत्पादों का सेवन कर लिया है और अप्रत्याशित दुष्प्रभाव मिला है तो तत्काल चिकित्सा सलाह लेनी जरूरी है। डब्ल्यूएचओ ने इन उत्पादों से प्रभावित होने की संभावना वाले देशों में निगरानी बढ़ाने का अनुरोध किया है।

अनौपचारिक/अनियमित बाज़ार की निगरानी बढ़ाने की भी सलाह दी गई है। स्वास्थ्य प्राधिकारियों को सलाह दी गई है कि यदि उनके देश में ये घटिया उत्पाद मिलेंं तो वे तुरंत डब्ल्यूएचओ को सूचित करें। इन दूषित दवाओं के उपयोग से जुड़े संदिग्ध प्रतिकूल घटनाओं की रिपोर्ट राष्ट्रीय नियामक प्राधिकरण को देनी चाहिए।

Advertisement