सर्वाइकल कैंसर से देश में रोजाना 211 महिलाओं की मौत

नई दिल्ली। सर्वाइकल कैंसर देश में रोजाना 211 महिलाओं की जान ले रहा है। हाल के बरसों में सर्वाइकल कैंसर एक महामारी की तरह फैल रहा है। मशहूर मॉडल पूनम पांडे की सर्वाइकल कैंसर से मौत ने इस बीमारी के खतरे से आगाह किया है। केंद्र सरकार ने इस बार के अंतरिम बजट में महिलाओं की सेहत को लेकर काफी ध्यान देने की बात कही है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में सर्वाइकल कैंसर को रोकने के लिए देशभर में वैक्सीनेशन अभियान चलाने का ऐलान किया है।

सर्वाइकल कैंसर के बढ़ रहे मामले

महिलाओं के लिए दूसरी सबसे खतरनाक बीमारी सर्वाइकल कैंसर है। महिलाओं में हर तरह के कैंसर के करीब 18 प्रतिशत मामले सामने आते हैं। हर साल करीब 1 लाख 20 हजार नए मामले सर्वाइकल कैंसर के आते हैं। इसमें 77 हजार से ज्यादा महिलाओं की मौत हो जाती है।

यानी हर रोज करीब 211 महिलाएं सर्वाइकल कैंसर से जान गंवाती हैं। देश में सर्वाइकल कैंसर की जांच एक फीसदी महिलाएं ही कराती हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि कम से कम 70 प्रतिशत महिलाओं की सर्वाइकल कैंसर की जांच होनी चाहिए।

बचाव के लिए वैक्सीन की कारगर

सर्वाइकल कैंसर के कारण हर साल हजारों महिलाओं की जान जा रही है। हालांकि, इससे बचाव के लिए वैक्सीन उपलब्ध है। अगर सही उम्र में इस वैक्सीन को लगवा लिया जाए तो इस गंभीर बीमारी को 98 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है। सर्वाइकल कैंसर यूट्रस के सर्विक्स में होता है। इस बीमारी के लक्षण भी जल्दी नहीं दिखते हैं। केवल जांच कराने पर ही इसका पता चल पाता है। दुनिया के कई देशों में इस बीमारी से बचने के लिए मुफ्त वैक्सीन लगवाई जाती है।

फेमस मॉडल पूनम पांडे की सर्वाइकल कैंसर ने ली जान

फेमस मॉडल पूनम पांडे की मौत भी सर्वाइकल कैंसर की वजह से हुई है। वो महज 32 साल की थीं। ये बीमारी किसी भी उम्र में महिलाओं को हो जाती है। अगर इस बीमारी से बचने के लिए वैक्सीन ही एकमात्र इलाज है। इस जानलेवा बीमारी से बचाव के लिए सरकार ने बच्चियों को इसकी वैक्सीन लगाने का फैसला किया है।

Advertisement