दवा सप्लायर कंपनी को नोटिस 

गुरूग्राम। मेदांता हॉस्पिटल में महंगे दाम पर इंजेक्शन सप्लाई करने का मामला गर्मा गया है। अस्पताल प्रशासन दवा सप्लाई करने वाली कंपनी को नोटिस भेजेगा। दवा निर्माता कंपनी और रिटेलर ने नैशनल फार्मास्युटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी (एनपीपीए) की ओर से दवा के लिए जारी रेट से ज्यादा एमआरपी लिखी है। डिस्ट्रिक्ट ड्रग कंट्रोलर संदीप गाहल्याण ने बताया कि मेदांता के मेडिकल स्टोर में मिले इंजेक्शन के रेट और एनपीपीए के रेट में काफी अंतर पाया गया है। इसके लिए कंपनी और रिटेलर को नोटिस भेजा जाएगा।

उन्होंने बताया कि मेदांता हॉस्पिटल में 7 साल के शौर्य के इलाज में हॉस्पिटल ने दवाओं के नाम पर ज्यादा रकम वसूली थी। डिस्ट्रिक्ट ड्रग कंट्रोलर और लाइसेंसिंग अथॉरिटी की जांच में पाया कि इलाज के दौरान दिए गए इंजेक्शन की कीमत ज्यादा थी। इस मामले में अस्पताल के मेडिकल स्टोर का ड्रग लाइसेंस एक सप्ताह के लिए सस्पेंड कर दिया गया था। एनपीपीए के अनुसार सभी टैक्स के बाद 5 रुपये 10 पैसे कीमत वाले इंजेक्शन की एमआरपी संबंधित कंपनी ने 9 रुपये 59 पैसे लिखी थी। इसके चलते कंपनी से जुर्माना भी वसूला जा सकता है।