दवा मूल्यों पर नियंत्रण को व्यापार मार्जिन सीमा तय करने की सिफारिश

नई दिल्ली

दवा कीमतों को नीचे लाने के लिए एक उच्चस्तरीय समिति ने 50 रुपये से अधिक की एमआरपी वाली सभी दवाओं के लिए व्यापार मार्जिन (ट्रेड मार्जिन) की सीमा तय करने की सिफारिश की है। समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा है, ‘समिति व्यापार का मार्जिन तय करने की सिफारिश करती है जिससे उपभोक्ताओं से लिए जाने वाले ऊंचे ट्रेड मार्जिन को नियंत्रित किया जा सके।’ समिति ने 20 से 50 रुपये की दवा के लिए इस मार्जिन की सीमा 40 प्रतिशत रखने का सुझाव दिया है। वहीं दो से 20 रुपये की दवा के लिए ट्रेड मार्जिन 2 से 20 रुपये रखने की सिफारिश की है।

हालांकि, समिति ने 2 रुपये तक की दवा पर किसी तरह के व्यापार मार्जिन की सिफारिश नहीं की है। थोक और खुदरा कारोबारियों को दवा की बिक्री पर होने वाली कमाई ट्रेड मार्जिन कहलाती है। इस रिपोर्ट पर रसायन एवं उर्वरक राज्यमंत्री हंसराज अहीर ने कहा, ‘सरकार आम जनता के लिए दवा कीमतों को उचित मूल्य पर रखना चाहती है। लेकिन इसके साथ ही हम चाहते हैं कि उद्योग आगे बढ़े। ऐसे में हम यह प्रस्ताव लाए हैं जिस पर सभी अंशधारकों के साथ विचार विमर्श किया जाएगा।