गर्मी के मौसम में रामबाण नींबू

चिकित्सक भी मानते हैं कि गर्मी के दिनों में नीबू पानी पीने से शरीर का तापमान ठीक रहता है। इससे शरीर को ताजगी मिलती है। रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में भी नींबू सहायक है।


क्योंकि गर्मी के मौसम की आहट हो गई है, तो नींबू रस के सेवन की मात्रा बढ़ा दें। बहते पसीने के बीच नीबू पानी पीने मजा ही अलग है। ठंडा का ठंडा और ताजगी की ताजगी। नीबू सेहत के लिए भी अच्छा होता है और फिट रहने के लिए तो यह रामबाण है। नीबू में विटामिन सी होता है और यह दांतों और मसूढ़ों के लिए भी बहुत फायदेमंद है। यह तो चिकित्सक भी मानते हैं कि गर्मीकेदिनोंमेंनीबू पानी पीने से शरीर का तापमान ठीक रहता है इससे शरीर को ताजगी मिलती है। यह शरीर में रोग-प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है।

वजट घटाने के लिए भी आयुर्वेदिक चिकित्सक नींबू पानी पीने की सलाह देते हैं। इसके लिए जरूरी है सुबह-सुबहखाली पेट नीबू पानी पिया जाए।  गुनगुने पानी में नीबू के साथ शहद मिला कर पिया जाए तो इससे एसिडिटी नहीं बढ़ती और वजन कम होने में भी सहायता मिलती है।

शहद शरीर केअतिरिक्त वसा को ऊर्जा मेंबदलता है और कैलोरी तेजी से घटती है। नीबू में पेक्टिनफाइबर होता है, जिससे पेट भरा हुआ महसूस होता है और खाने खाने पर संतुष्टि महसूस होती है। नीबू पानी में साइट्रिक एसिड होता है जिससे शरीर में मौजूद विषैले तत्व बाहर निकल जाते हैं। इससे शरीर में मौजूद एन्जाइम्स सही तरीके से काम करते हैं और लिवर स्वस्थ्य रहता है। साइट्रिक एसिड से मैटाबॉलिज्म की क्रिया भी तेज होती है।

मुंह से बदबू आती हो तो एक गिलास पानी में दो चम्मच नीबू का रस मिलाकर कुल्ला करने से राहत मिलती है। रात को सोते वक्त भी ऐसा किया जा सकता है। इससे दांतों के बीच फंसे भोजन में बैक्टिरिया नहीं पनपते। ठंडे पानी की बाल्टी में कुछ बूंदे नीबू का रस मिलाकर नहाने से पूरे दिन ताजगी बनी रहेगी। इस तरह के पानी से नहाने पर पसीने की दुर्गंध नहीं आती है।

नीबू की चाय पीने से प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है। नीबू में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट और विटामिन सी कई रोगों से लडऩे में मदद करता है। यदि रोज भोजन में नीबू का उपयोग किया जाए तो मौसमी सरदी-जुकाम से बचा जा सकता है। त्वचा को चमकदार बनाने के लिए भी नींबू लाभकारी है। घरेलू फेस पैक में नींबू बूंद मिलाने से चेहरे की रंगत ही बदल जाती है।