किडनी के आकार वाला दुनिया का पहला अस्पताल बनेगा इस शहर में

अहमदाबाद। किडनी के आकार वाला दुनिया का पहला अस्पताल भारत में गुजरात राज्य के शहर राजकोट में बनाया जाएगा। इस अस्पताल की बिल्डिंग की डिजाइन बिल्कुल किडनी के आकार की होगी। बता दें कि राजकोट में ही गुजरात का पहला एम्स का निर्माण भी लगभग हो चुका है।

बीटी सावनी किडनी हॉस्पिटल होगा नाम

गुजरात सरकार ने किडनी के आकार का अस्पताल के लिए जमीन भी दे दी है। इस अस्पताल में एक रिसर्च सेंटर भी होगा। इसमें देश और दुनियाभर के छात्र डॉक्टर शोध कर सकेंगे। अस्पताल का नाम बीटी सावनी किडनी हॉस्पिटल रखा जाएगा। इस अस्पताल के निर्माण का मुख्य उद्देश्य किडनी के अच्छे और आधुनिक इलाज को उपलब्ध कराना है। अहमदाबाद, दिल्ली और विदेश के आर्किटेक्ट किडनी के आकार के ट्विन टावर को बनाएंगे।

इलाज के 21 साल पूरे होने पर किया ऐलान

सौराष्ट्र और कच्छ इलाके में किडनी के रोगों का इलाज करते हुए 21 साल पूरे होने पर सावनी किडनी हॉस्पिटल ने इस अस्पताल के निर्माण का फैसला किया है। गौरतलब है कि साल 1998 में सौराष्ट्र क्षेत्र में किडनी रोगों की दुर्दशा को देखते हुए डॉ. प्रदीपभाई कंसागरा, देवजीभाई पटेल, जयंतीभाई फलदु, रमेशभाई पटेल ने सौराष्ट्र किडनी रिसर्च इंस्टीट्यूट, राजकोट नामक एक ट्रस्ट की स्थापना की थी। इसके बाद राजकोट में बीटी सावनी किडनी हॉस्पिटल का निर्माण हुआ था।

इलाज के लिए दूर से भी लोगों के आने की संभावना

पिछले साल राजकोर्ट में इंटरनेशनल हवाई अड्डे का शुभारंभ भी हो चुका है। ऐसे में नए अस्पताल के निर्माण से किडनी के इलाज के लिए दूर से भी लोग आ सकते हैं। अब एम्स भी शुरू होने जा रहा है। किडनी हॉस्पिटल के निर्माण से राजकोट में वल्र्ड क्लास चिकित्सा सुविधा मिल पाएंगी। यह भी एक संयोग है कि दुनिया की पहली किडनी ट्रांसप्लांट यूनिवर्सिटी भी गुजरात में हैं।

Advertisement